भूमि माफिया से मेरी जमीन को बचाएं नहीं तो कर लूंगा आत्मदाह : विश्वनाथ राय

भूमि जिस पर भूमि माफिया करा रहे काम
https://rashtriyamukhyadhara.com/wp-content/uploads/2023/10/nagada-Ad-1a-e1696547149782.jpg

डीसी को आवेदन दे पीड़ित ने लगाया जमीन माफिया के चंगुल से पुश्तेनी जमीन बचाने की गुहार

जमीन पर लागू है धारा 144, लेकिन जमीन माफिया धड़ल्ले से करा रहे काम

[राजेश कुमार]

गिरिडीह। जिले में इन दिनों जमीन माफिया की कारस्तानी पूरे परवान पर है। जमीन माफिया को न तो प्रशासन का ख़ौफ़ है और न ही आम पब्लिक का। क्योंकि उन्हें तो बड़े बड़े महारथियों का बरदहस्त और संरक्षण प्राप्त होता है। नतीजतन वे बेख़ौफ़ हो लोगों की पुश्तेनी, ख़ातियानी जमीन को अपना बना उसे बेच देते हैं। जिनकी जमीन वे जमीन माफिया बेच देते है वो पीड़ित पक्ष थाना कचहरी का चक्कर लगाता रह जाता है लेकिन उनकी समस्या का समाधान नहीं हो पाता है। क्योंकि थाना उनकी बात तक नहीं सुनता। भले ही थानेदार हो एसपी का ही निर्देश उक्त मामले में क्यों न प्राप्त हो। थाना के बाबू एसपी के बातों को भी नजर अंदाज करने में कोई कोर कसर नहीं छोड़ते। और थाना के बाबू उल्टा पीडित पक्ष को दौड़ाते रहते हैं।

गिरिडीह के मुफ्फसिल क्षेत्र का है मामला :

ऐसा ही एक मामला गिरिडीह मुफ्फसिल थाना का है। सिरसिया निवासी एक बुजुर्ग विश्वनाथ राय ने मुफ्फसिल थाना को बीते 22 मई 2023 को एक आवेदन देकर बताया कि मौजा सिरसिया में खाता नम्बर 52 प्लॉट नम्बर 29 कुल रकवा 2 एकड़ 70 डिसमिल उनकी खतियानी पुश्तेनी जमीन है। जो उनके पूर्वज शुकर राय के नाम से है। उक्त जमीन का आपसी बंटवारा होने के बाद एक एकड़ पन्द्रह डिसमिल जमीन उन्हें प्राप्त हुआ है। लेकिन उक्त जमीन को उनके गोतिया भुवनेश्वर राय वगैरह पिता चुन्नी राय स्थानीय भूमाफिया के साथ मिलकर जबरन कब्जा जमाने का प्रयास कर रहे हैं। इतना ही नहीं उनकी जमीन को उन लोगों के द्वारा बेचा भी जा रहा है। जिससे काम भी लगा दिया है।

पीड़ित 75 वर्षीय विश्वनाथ राय

थाने को दिया आवेदन नहीं हुई कोई कार्रवाई:

थाने को दिए आवेदन मे उन्होने बताया है कि जमीन पर लगे काम को मना करने पर विपक्षीगण भुवनेश्वर राय, खीरु राय, कैलाश राय, राजू राय, सुंदर राय, आदि मारपीट और खून खराबा करने को तैयार हो जाते है। जिस कारण मेरे इस जमीन पर तनाव की स्थिति बनी हुई है। जिससे कभीं भी कानून व्यवस्था भंग हो सकती है। बुजुर्ग विश्वनाथ राय ने थाना प्रभारी से इंसाफ की गुहार लगाया है और विपक्षी गण पर उचित कानूनी कार्रवाई करने की मांग किया है। उन्होंने थाना प्रभारी को दिए इस आवेदन की प्रति एसपी गिरिडीह को भी भेजा। एसपी ने थाना को यथोचित कार्रवाई करने का निर्देश दिया। लेकिन अब तक कोई कार्रवाई इस पर नहीं हुई है।

जमीन पर बन रहा दो मंजिला मकान

उपायुक्त को आवेदन दे लगाया न्याय की गुहार :

अंततः पीड़ित विश्वनाथ राय ने उपायुक्त गिरिडीह को एक आवेदन देकर इस मामले में न्याय की गुहार लगाया है। जिसमे उन्होंने यह बताया है कि उनके गोतिया भूमि माफिया रंजीत ठाकुर पिता कामेश्वर ठाकुर, दीपक मिश्रा पिता जनार्दन मिश्रा, दिलीप राय पिता नामालुम, मुकेश यादव पिता तोड़ी यादव, भुनेश्वर राय एवं धनेश्वर यादव पिता स्व पूरन राय मिलकर मुझ वृद्ध की जमीन जबरन लूट लेना चाहता है। यह बताया कि उनके गोतिया उपरोक्त सभी भूमि माफिया के साथ मिल कर तरह तरह का षडयंत्र रच रहे है ताकि दबाब में आकर मैं जमीन छोड़ दूं।

जमीन पर भूमि माफिया करा रहे काम

जमीन पर चल रहा सिविल सूट :

डीसी को दिए आवेदन में पीड़ित ने बताया है कि उक्त जमीन पर सिविल जज गिरिडीह की अदालत में सिविल सुट संख्या 1151/ 19 चल रहा है। इतना ही नही उक्त जमीन पर एसडीओ द्वारा धारा 144 लगाया गया है। बाबजूद इसके जमीन माफिया उक्त जमीन पर काम लगा कर उसे लुटने में जुटे है। उन्होंने डीसी से अपनी उक्त पुश्तेनी जमीन को बचाने की गुहार लगाया है। साथ ही जमीन माफिया से सुरक्षा प्रदान करने की भी गुहार लगाया है। यह भी कहा है कि यदि उनकी जमीन भूमि माफिया से नहीं बचाया गया तो वे बाध्य होकर अनुमंडल कार्यालय के समक्ष आत्मदाह कर लेंगे। जिसका जिम्मेवार प्रशासन होगा।

Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *