गिरिडीह के लिये ऐतिहासिक दिन रहा मंगलवार, मिला गिरिडीह वासियों को चीरप्रतीक्षित सौगात

◆ शुरू हुआ न्यू गिरिडीह- रांची इंटरसिटी एक्सप्रेस ट्रेन

◆ 152 वर्षों के बाद गिरिडीह से शुरू हुई राजधानी रांची के लिये सीधी रेल सेवा

मंचासीन अतिथिगण
https://rashtriyamukhyadhara.com/wp-content/uploads/2023/10/nagada-Ad-1a-e1696547149782.jpg

[राजेश कुमार]

गिरिडीह। गिरिडीह जिले के वासियों के लिये आज का दिन काफी ऐतिहासिक रहा। केंद्र की मोदी सरकार ने गिरिडीह वासियों को एक बड़ा तोहफा दिया है। वर्षों से चली आ रही मांग गिरिडीह-रांची इंटरसिटी एक्सप्रेस का परिचालन आज से शुरू हुई।
केंद्रीय शिक्षा राज्य मंत्री सह कोडरमा सांसद अन्नपूर्णा देवी ने हरी झंडी दिखाकर इस ट्रेन का न्यू गिरिडीह रेलवे स्टेशन से हरी झंडी दिखा कर रवाना किया। इस ऐतिहासिक कार्यक्रम में गिरिडीह के सांसद चंद्रप्रकाश चौधरी, गिरिडीह सदर विधायक सुदिव्य कुमार सोनू, बरकट्ठा विधायक अमित यादव, जमुआ विधायक केदार हाजरा के अलावे पूर्व गिरिडीह विधायक निर्भय कुमार शाहाबादी एवं भाजपा नेता लक्ष्मण सिंह भी मौजूद थे।

हरी झंडी दिखा ट्रेन को रवाना करती केंद्रीय मंत्री व अन्य

मोदी है तो मुमकिन है ट्रेन के परिचालन समय मे परिवर्तन : अन्नपूर्णा देवी

इससे पूर्व भारतीय रेल द्वारा आयोजित कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि सम्बोधित करते हुए केंद्रीय मंत्री ने कहा कि 1871 में गिरिडीह जिले में रेलवे लाइन की सुविधा शुरू हुई थी। 152 वर्षों बाद पहली बार गिरिडीह से राजधानी के लिये सीधी रेल सेवा शुरू हुई है। उन्होंने कहा कि बर्तमान समय मे न्यू गिरिडीह रेलवे स्टेशन में सुविधा का अभाव है इसलिये इस ट्रेन का रात्रि में ठहराव गिरिडीह में नहीं हो पा रहा है। लेकिन भविष्य में इसके परिचालन के समय मे परिवर्तन सम्भव है। कहा कि गिरिडीह जिला केन्र्द सरकार के आकांक्षी जिला में शामिल है। जिसके तहत केंद्र सरकार यहां के निवासियों के हर आकांक्षा और अपेक्षा को जरूर पूरा करेगा। उन्होंने “मोदी है तो मुमकिन है” का नारा मंच से बुलंद करते हुए कहा कि सलैया रेलवे स्टेशन में इस ट्रेन का ठहराव और ट्रेन के परिचालन के समय मे परिवर्तन जरूर होगा। वहीं गिरिडीह से हावड़ा और पटना रेल सेवा के बारे में कहा कि इस दिशा में प्रयास जारी है।

पारसनाथ-गिरिडीह रेल लाइन का कार्य शीघ्र : चंद्रप्रकाश चौधरी

सभा को सम्बोधित करते हुए गिरिडीह सांसद चन्द्र प्रकाश चौधरी ने कहा कि पारसनाथ गिरिडीह रेल लाइन का कार्य भी शीघ्र शुरू होगा। कहा कि इस मार्ग के लिये सर्वे के काम के लिये केंद्र सत्कार ने अपना 50 प्रतिशत अंश दे दिया है। राज्यांश का 50 प्रतिशत राशि मिलते ही इस रेल लाइन का काम भी शुरु हो जाएगा। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार इन दिनों ट्रेन के टाईम टेबल में सुधार पर काम कर रही है। 97% ट्रेन के टाईम टेबल में सुधार हो चुका है। 100% सुधार की दिशा में कार्य जारी है।

सुबह में गिरिडीह से खुले ट्रेन : सुदिव्य सोनू

वहीं सदर विधायक ने अपने सम्बोधन में इस ट्रेन का परिचालन सुबह में गिरिडीह से करने की बातें रखी। कहा कि यदि सुबह में ट्रेन चले तभी यहां के लोगों को अपेक्षित लाभ मिल सकेगा। इस ट्रेन का बर्तमान टाइम टेबल से गिरिडीह वासियों को खास फायदा नहीं होने वाला है। उन्होंने सलैया स्टेशन मे इस ट्रेन के ठहराव की मांग करते हुए कहा कि इससे न केवल शहरवासी बल्कि पचम्बा और आसपास के लोगों को काफी फायदा होगा और रेलवे को राजस्व भी प्राप्त होगा।

जनशताब्दी एक्सप्रेस तीन दिन कोडरमा गिरिडीह रूट से चले : केदार हाजरा

वहीं जमुआ विधायक केदार हाजरा ने कहा कि आज का दिन वाकई जिले वासियों के लिये ऐतिहासिक दिन है। पहली बार गिरिडीह से कोई रेल सेवा शुरू हों रही है। उन्होंने कहा कि हावड़ा और पटना तक के लिये भी ट्रेन सुविधा शुरू हो। इसके लिये पटना से हावड़ा जाने वाली जनशताब्दी एक्सप्रेस ट्रेन का परिचालन तीन दिन इस रूट से करने से यहां के लोगों को पटना और हावड़ा जाने में सहूलियत होगी।

ट्रेन में सफर करती कोडरमा सांसद एंव जमुआ विधायक

सलैया स्टेशन का नाम पचम्बा सलैया किया जाय : डॉ सरफराज अहमद

गांडेय विधायक ने इस मौके पर कहा कि कोडरमा गिरिडीह ट्रेन लाइन का सपना जननायक रीतलाल प्रसाद वर्मा का था। जो साकार हुआ और आज उस पर रांची के लिये सीधी रेल सेवा शुरू हुई। उन्होंने कहा कि रांची के लिये सीधी रेल सेवा शुरु होने से गांडेय विधानसभा क्षेत्र के लोगों को काफी फायदा होगा और अधिक फायदा क्षेत्र के लोगों को हो इसके लिये इस ट्रेन को महेशमुण्डा स्टेशन तक बढ़ाया जाय। वहीं उन्होंने गिरिडीह जिला मुख्यालय के लोगों को इस ट्रेन की सुविधा मिले इसके लिये इस ट्रेन का ठहराव सलैया स्टेशन में करने और सलैया स्टेशन का नाम पचम्बा सलैया करने की वकालत की। सभा को बरकट्ठा विधायक अमित यादव ने भी सम्बोधित किया और इसे गिरिडीह, कोडरमा बरकट्ठा और हजारीबाग के लिये एक बड़ी सौगात बताया।

कार्यक्रम में पूर्व विधायक निर्भय शाहाबादी को नहीं किया गया सम्मानित :

इसके पूर्व कार्यक्रम के दौरान रेल प्रशासन की ओर से सभी अतिथियों को पुष्प गुच्छ और शॉल भेंट कर सम्मानित किया गया। धनबाद के डीआरएम कमल किशोर सिंह एवं सीनियर डीआरएम अमरेश कुमार ने मंचासीन सभी अतिथियों को सम्मानित किया। लेकिन मंच पर पहली ही पंक्ति में बैठे गिरिडीह के पूर्व विधायक निर्भय कुमार शाहाबादी को इससे वंचित रखा। पार्श्व मंच से जब कई लोगों ने उन्हें भी सम्मानित करने को कहा तो डीआरएम उन्हें निर्मल शाहाबादी कह कर सम्बोधित किया। रेल अधिकारी उन्हें सम्मानित करने भी पहुंचे लेकिन पूर्व विधायक ने इंकार कर दिया। वहीं मौके पर भाजपा नेता प्रणव वर्मा, चुन्नू कांत, चैम्बर ऑफ कामर्स के अध्यक्ष निर्मल झुनझुनवाला समेत काफी संख्या में भाजपा नेता एवं हजारों की संख्या में विभिन्न राजनीतिक दलों से जुड़े लोग और ग्रामीण मौजूद थे।

कार्यक्रम में उपस्थित लोग

इस टाइम टेबल के अनुसार चलेगी ट्रेन :

यहां बता दें कि यह ट्रेन गिरिडीह, जमुआ, धनवार, महेशपुर, कोडरमा, हजारीबाग टाउन, बरकाकाना, मेसरा, टाटी सिल्वे होते हुए रांची तक का सफर तय करेगी। ट्रेन का समय सुबह 6 बजे रांची से खुलेगी। 6:23 बजे टाटी सिल्वे, 6:42 बजे मेसरा, 8:05 ने बरकाकाना, 9:08 मिनट में हजारीबाग टाउन, 10:30: बजे कोडरमा, 11:20 में महेशपुर हॉल्ट, 11:40 में धनवार, 12:03 में जमुआ और दोपहर 01 बजे न्यू गिरिडीह स्टेशन ट्रेन पहुंचेगी।

न्यू गिरिडीह रेलवे स्टेशन से एक घंटा बाद दोपहर 02:00 बजे ट्रेन वापस रांची के लिए खुलेगी। 2:30 में जमुआ, 2:58 में धनवार, 3:28 में महेशपुर हॉल्ट, 4:30 में कोडरमा, 5:55 में हजारीबाग टाउन, शाम 7 बजे बरकाकाना, 8:35 में मेसरा, 9:05 में टाटी सिल्वे और 9:30 रात में यह ट्रेन रांची पहुंचेगी।

ट्रेन खुलने से गिरिडीह वासियों में खुशी व्याप्त :

गिरिडीह-रांची इंटसिटी एक्सप्रेस ट्रेन के चलने से गिरिडीह के लोगों में खुशी व्याप्त हो गयी है। इस ट्रेन के खुलने से गिरिडीह के लोग काफी खुश हैं। रेलवे के इतिहास में पहली बार गिरिडीह से सीधी ट्रेन चली है। लोगों ने इसके लिए केंद्र सरकार, रेल मंत्रालय और कोडरमा सांसद को धन्यवाद दिया है।

Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *