गोरखपुर में रिश्वत लेते पकड़ा गया रेलवे अफसर, घर पर मिला 2.61 करोड़ कैश

 

गोरखपुर :

केंद्रीय जांच ब्यूरो (CBI) उत्तर प्रदेश के गोरखपुर में बड़ी कार्रवाई की है. यहां रेलवे के प्रिंसिपल चीफ मटेरियल मैनेजर केसी जोशी को गिरफ्तार किया गया, छापेमारी में उसके ठिकाने से 2.61 करोड़ रुपये का कैश मिला. करोड़ों रुपये के कैश की तस्वीर सामने आई है, जिसके बाद सोशल मीडिया पर इस मामले की चर्चा शुरू हो गई है.

न्यूज एजेंसी ANI ने बताया​ कि रेलवे के प्रिंसिपल चीफ मटेरियल मैनेजर केसी जोशी को बुधवार को तीन लाख रुपए की घूस लेते हुए पकड़ा गया. केसी जोशी 1988 बैच के IRSS अधिकारी हैं. CBI की पूछताछ के दौरान जोशी ने कई चौंकाने वाले खुलासे किए हैं. उनके पास से कई संदिग्ध डाक्यूमेंट्स भी मिले हैं. CBI ने उनके कंप्यूटर और हार्ड डिस्क को कब्जे में ले लिया है.

जांच अधिकारियों के मुताबिक, गोरखपुर स्थित रेलवे के प्रिंसिपल चीफ मटेरियल मैनेजर केसी जोशी को CBI बुधवार की सुबह लेकर लखनऊ चली गई. हालांकि, एक टीम अब भी गोरखपुर में डेरा डाले हुए है. अब टीम उसे CBI की स्पेशल कोर्ट में पेश करेगी. यह भी कहा जा रहा है कि CBI केसी जोशी को रिमांड पर लेने की तैयारी में है.

मीडिया रिपोर्ट्स में बताया जा रहा है कि जोशी ने गवर्नमेंट ई मार्केटप्लेस (GEM) पोर्टल से त्रिपाठी की फर्म का रजिस्ट्रेशन रद्द नहीं करने के लिए 7 लाख की रिश्वत मांगी थी. इसका जिक्र एफआईआर में भी है. एफआईआर में कहा गया है कि प्रणव त्रिपाठी को जनवरी में GeM पोर्टल के माध्यम से NER में तीन ट्रकों की सप्लाई के लिए टेंडर मिला था. हालांकि, जोशी ने प्रणव को 7 लाख रुपये का भुगतान न करने पर उनकी फर्म का रजिस्ट्रेसन रद्द करने की धमकी दी थी. इसके बाद त्रिपाठी ने जोशी के खिलाफ शिकायत दर्ज करवाई थी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *