फांसी के फंदे से झूल दसवीं की छात्रा ने कर ली अपनी इहलीला समाप्त

◆मृतका के मोबाइल के सहारे पुलिस जुटी जांच पड़ताल में

 

GIRIDIH (गिरिडीह)। तिसरी थाना क्षेत्र के भंडारी गांव में दसवीं वर्ग के छात्रा अलका कुमारी ने रविवार की अहले सुबह को पंखा में दुपट्टा से फांसी लगाकर जान दे दी। छात्रा भंडारी के उपेंद्र सिंह की पुत्री है। घटना की जानकारी मिलते ही तीसरी थाने की पुलिस गांव पहुंच शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम हेतु गिरिडीह सदर अस्पताल भेज दिया था।

बताया जाता है की अलका अपने पुराने घर में अकेली थी। माता पिता और एक छोटी बहन भंडारी तालाब के समीप स्थित नए मकान में रात में सो रहे थे। सुबह पुराने घर आया तो देखा की पंखा से बेटी दुपट्टा से झूली हुई है। मोबाइल वहीं पड़ा हुआ है। घटना की जानकारी मिलते ही आस पास के लोगों की भीड़ जुट गई।

सूचना पाकर पहुंचे मुखिया पिंकेश सिंह ने देखा कि फांसी लगाने के पूर्व अलका देर तक मोबाइल पर वाट्सअप के माध्यम से सचिन यादव से चैट की थी। वाट्सअप में हुए चैट में कई मैसेज डिलीट कर देने से यह साफ नहीं हो सका की किस कारण से अलका ने मजबूर होकर फांसी लगाई। वहीं अलका की मौत के बाद भी उसके मोबाइल पर सचिन समेत दो अन्य लोगों का लगातार फोन आ रहा था।

बहरहाल तिसरी पुलिस ने मृतका के मोबाइल को जब्त कर मामले की जांच पड़ताल करने में जुट गई है। वहीं मृतका के परिजनों ने तिसरी थाना में आवेदन देकर अलका की मौत का जिम्मेवार चार लोगो को बताते हुए नामजद प्राथमिकी दर्ज कराया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *