रंगारंग कार्यक्रमों के साथ डीपीएस चास में मना छात्र सम्मान समारोह

कड़ी मेहनत व सीखने की ललक ही सफलता की कुंजी ः रजनीश 
बोकारो ः डीपीएस चास में शनिवार को सीबीएसई 10वीं और 12वीं बोर्ड परीक्षा-2024 में डॉ. राधाकृष्णन सहोदया स्कूल कॉम्प्लेक्स बोकारो के विभिन्न 43 स्कूलों के टॉपर्स 129 उत्कृष्ट छात्रों की उपलब्धियों को पहचानने और सम्मानित करने के लिए एक भव्य समारोह का आयोजन किया गया। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि बोकारो के वन प्रमंडल पदाधिकारी रजनीश कुमार थे। अन्य सम्मानित अतिथियों में डॉ. एस राधाकृष्णन सहोदया स्कूल कॉम्प्लेक्स बोकारो के अध्यक्ष सह- डीपीएस बोकारो के प्राचार्य डॉ. ए एस गंगवार, उपाध्यक्ष सह- जीजीपीएस, बोकारो के प्रधानाचार्य सोमेन चक्रवर्ती, महासचिव सह- एआरएस पब्लिक स्कूल के प्रधानाचार्य विश्वजीत पात्रा एवं एमजीएम हायर सेकंडरी बोकारो के प्रधानाचार्य डॉ जोशी वर्गीस के अलावा अन्य स्कूलों के प्रधानाचार्य तथा शिक्षक उपस्थित थे। 
समारोह का शुभारंभ दीप प्रज्ज्वलन के साथ हुआ। तत्पश्चात मुख्य अतिथि तथा सम्मानित अतिथियों का स्वागत डीपीएस चास की प्रभारी प्रधानाचार्या दीपाली भुस्कुटे ने किया। इस अवसर पर डीपीएस चास के छात्रों ने गणेश वंदना का मनमोहक प्रदर्शन किया। इसके बाद मुख्य अतिथि तथा सम्मानित अतिथियों ने सीबीएसई बोर्ड-2024 के स्कूल टॉपर्स छात्रों को उनकी कड़ी मेहनत, परिश्रम और प्रतिबद्धता के लिए ट्रॉफी और प्रमाण-पत्र देकर सम्मानित किया।
https://rashtriyamukhyadhara.com/wp-content/uploads/2023/10/nagada-Ad-1a-e1696547149782.jpg

विद्यार्थियों को संबोधित करते हुए मुख्य अतिथि ने कहा कि अपने लक्ष्य के प्रति जुनून हो तो निश्चय ही कामयाबी हमारे कदम चूमेगी। इसके साथ ही उन्होंने छात्रों को खुद को केंद्रित रखने और दृढ़ संकल्प तथा कड़ी मेहनत के साथ अपने लक्ष्य की ओर प्रयास करने के लिए प्रेरित किया। इस अवसर पर डॉ. गंगवार ने छात्रों को कहा कि एक अच्छा इंसान ही अच्छा विद्यार्थी और अच्छा नागरिक बन सकता है। उन्होंने छात्रों को शिक्षा के क्षेत्र में एआई की नई तकनीक के कारण बदल रही परिस्थितियों के अनुसार लक्ष्य निर्धारित कर उसके प्रति केंद्रित रहने तथा जुनून के साथ अध्ययन करने के लिए भी प्रोत्साहित किया।

डीपीएस चास की चीफ मेंटर डॉ हेमलता एस मोहन ने सम्मानित विद्यार्थियों को उज्ज्वल भविष्य के लिए शुभकामनाएं दीं। अपने संदेश में उन्होंने कहा कि परिश्रम का कोई विकल्प नहीं है। छात्र योजनाबद्ध तरीके से अपने ध्येय को पाने का अनवरत प्रयास करते रहें। ऐसा करें, जिससे कि वे समाज के लिए प्रेरणा बन सकें, क्योंकि वे ही समाज व राष्ट्र के भविष्य हैं। इस अवसर पर प्रधानाध्यापिका सुदेशना सिन्हा तथा डीएस मेमोरियल सोसायटी चास के सचिव सुरेश अग्रवाल ने भी विद्याथियों को उनकी सफलता पर बधाई दी। कार्यक्रम का संचालन कक्षा 12वीं की छात्रा-तनुश्री हांसदा, दसवीं की वंशिका राउत और तृषा साहु और सुदीप दत्ता तथा नौवीं की सृष्टि ने की। धन्यवाद ज्ञापन डॉ आर के सहोदया स्कूल कॉम्प्लेक्स के महासचिव विश्वजीत पात्रा ने किया।